timefornews.in

दिल्ली : बच्चों की स्कूल फीस न देने पर अभिभावक को लीगल नोटिस भेजने के पक्ष में स्कूल प्रसाशन

दिल्ली NCR

नई दिल्ली : [टाईम फॉर न्यूज़ – रवि डालमिया/जगजीत सिंह] पिछले 8 महीने से तमाम स्कूल बंद है । जिसकी वजह से स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे ठीक तरीके से पढ़ाई नहीं कर पा रहे हैं। हालांकि तमाम स्कूलों में ऑनलाइन पढ़ाई करवाई जा रही है। लेकिन कुछ विधर्ती ऐसे हैं ।जिनके पास स्मार्ट फोन नहीं है । उसके चलते बच्चे पढ़ नहीं पा रहे हैं ।इसी के चलते अभिभावकों ने स्कूल की फीस रोक ली है। और फीस ना भरने की वजह से निजी स्कूल बंद होने की कगार पर हैं। इस समस्या को मद्देनजर रखते हुए।

इसे भी पढ़ें : दिल्ली के ‘बाबा का ढाबा’ वाले बाबा पहुंचे थाने, फेमस करने वाले यू-ट्यूबर के खिलाफ की शिकायत

नरेला विधानसभा के बख्तावरपुर में स्थित भगवती देवी पब्लिक स्कूल के प्रधान्यचार्य यशवीर सिंह ने बताया पिछले 8 महीने से बंद स्कूल होने की वजह से निजी स्कूलों की आर्थिक स्थिति बिल्कुल चरमरा गई है।

अधिकतर ऐसे स्कूलों में आर्थिक रूप से कमजोर अभिभावक के बच्चे ही पढ़ते हैं। लॉक डाउन के चलते ऐसे के चलते ऐसे माता-पिता की जहां आर्थिक स्थिति बहुत कमजोर है। वही रोजगार टूटने के कारण जीवन जीना दुस्वार हो गया है । अब निजी स्कूल इस स्थिति में नहीं है । कि अपने यहां कार्यरत शिक्षक, शिक्षिकाओं या चपरासी आदि को वेतन दे सकें । इसी बारे में दिल्ली के प्रधानाचार्य यसबीर सिंह से बात की तो उन्होंने बताया कि उन्होंने दिल्ली स्टेट पब्लिक स्कूल्स मैनेजमेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष आर.सी जैन माध्यम से सरकार को पत्राचार किये है। प्रधान्यचार्य यशवीर सिंह का कहना है ।बड़े स्कूल या छोटे स्कूल जिनमें गरीब बच्चे पढ़ते हैं। उनके अभिभावक फीस देने में सक्षम नहीं है ।

इसे भी पढ़ें : ताहिरपुर लेप्रोसी कॉलोनी में लड़की की हत्या का खुलासा, मौसा-मौसी गिरफ्तार

दिल्ली स्टेट पब्लिक स्कूल्स मैनेजमेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष आर .सी .जैन ने भी सरकार से अपील की है । कि ऐसी स्थिति में जिन लोगों की आर्थिक स्थिति बिगड़ गई और वह अपने बच्चों की फीस देने में सक्षम नहीं है। उन लोगों के लिए दिल्ली सरकार कोई ऐसा प्रावधान बनाएं । कि उनकी सरकार निजी स्कूलों को आर्थिक मदद दें। यदि ऐसा नहीं हो सकता है। तो कोई ऐसा कानून बनाए स्कूल की तरफ से अभिभावक को लीगल नोटिस भेजा जाए और उनसे फीस लेने का प्रावधान हो। और मानवता के आधार पर स्कूलों की तरफ से अभिभावकों को भी फीस में छूट दी जाए ताकि एक दूसरे के पूरक का हित हो सके

यदि सरकार अभिभावको से स्कूल को फीस दिलाने का कोई प्रावधान नहीं करती है। तो इस कोरोना कॉल में जल्दी ही दिल्ली में 20 परशेन्ट स्कूल बन्द होने की कगार पर है। और स्कूल बन्द भी हो चुके है ।

———————————————————————————————————–

टाईम फॉर न्यूज़ देश की प्रतिष्ठित और भरोसेमंद न्यूज़ पोर्टल timefornews.in की हिंदी वेबसाइट है। टाईम फॉर न्यूज़.इन में हम आपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mynews.tfn@gmail.com पर भेज सकते हैं या 9811645848 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।

टाईम फॉर न्यूज़ की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9811645848) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कांटेक्ट लिस्ट में सेव करें।

TIME FOR NEWS  पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूबफेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *