कैमरे से लैस होगी दिल्ली पुलिस की पीसीआर वैन, TIME FOR NEWS | Current & Breaking News | National & World Updates, Breaking news and analysis from TIMEFORNEWS.IN.,

कैमरे से लैस होगी दिल्ली पुलिस की पीसीआर वैन

दिल्ली NCR दिल्ली पुलिस

नई दिल्ली : देश की स्मार्ट पुलिस में शुमार की जाने वाली दिल्ली पुलिस के पास अब पेट्रोलिंग से लेकर कॉल पर जाने के दौरान की वीडियो फुटेज उपलब्ध होगी। जी हां, दिल्ली पुलिस के पीसीआर वाहन को अब वीडियो कैमरे से लैस किया जा रहा है। पीसीआर वैन में वीडियो कैमरे लगाने वाली दिल्ली पुलिस संभवत: देश की पहली पुलिस होगी। इस पर तेजी से काम चल रहा है। माना जा रहा है कि अगले कुछ महीनों में ही पीसीआर वाहन को कैमरों से लैस कर दिया जएगा।

इसे भी पढ़ें : अरविंद केजरीवाल बोले- होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना मरीजों की जान बचा रहा ‘सुरक्षा कवच’

पीसीआर वाहन में जो कैमरे लगाए जाएंगे, उनका कंट्रोल सीधे सेंट्रल कमांड रूम से होगा। इन कैमरों को इस तरह से जोड़ा जाएगा, जिससे सेंट्रल पुलिस कमांड और संचार कक्ष में लगे स्क्रीन पर मौके की लाइव फुटेज भेजी जा सकेगी। इससे सेंट्रल कमांड रूम में बैठे वरिष्ठ अधिकारियों की उसपर नजर होगी और हालात के बारे में लाइव जानकारी के लिए रेंज या फिर महकमे के प्रमुख सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को तत्काल वर्तमान स्थिति की सूचना मुहैया करा सकेंगे। इसके आधार पर आगे की रणनीति तय की जा सकेगी।

इसे भी पढ़ें : LNJP अस्पताल में शुरू हो सकती है प्लाज्मा थैरेपी, मनीष सिसोदिया ने तैयारियों का लिया जायजा

हर वैन में दो हाई डेफिनेशन कैमरे होंगे  : प्रत्येक पुलिस नियंत्रण कक्ष (पीसीआर) वैन में दो हाई-डेफिनेशन कैमरे लगेंगे। इनमें से एक स्थिर होगा जबकि दूसरा मूवेबल (घूमने वाल) होगा, ताकि पीसीआर में बैठा अधिकारी हालात के हिसाब से किसी खास परिस्थिति में अपनी जगह बदल सके। वाहन में लगे कैमरों को इस तरह से लगाया जाएगा ताकि यह सामने या पीछे की तरफ हो रही हर गतिविधि को रिकॉर्ड कर सकें।

इसे भी पढ़ें : रूस ने किया दुनिया की पहली कोरोना वायरस वैक्सीन का सफल परीक्षण, इंसानों के लिए पूरी तरह सुरक्षित

ये फायदा होगा : पीसीआर वाहन में कैमरे लगने के कई फायदे होंगे। दरअसल, कई बार मौके पर कुछ ऐसी अप्रिय घटना हो जाती है, जिसकी जांच के लिए सिर्फ लोगों के बयान पर ही आश्रित रहना पड़ता है। लेकिन, कैमरे लगने से मौके की वीडियो फुटेज उपलब्ध होगी और जो भी मौके के साक्ष्य होंगे, वह पूरी रह से वैज्ञानिक व सटीक होंगे। इसका यह फायदा भी होगा कि अगर पुलिस का व्यवहार मौके पर पहुंचने के बाद पीड़ित या भी आरोपी के साथ खराब होगा तो वह भी कैमरे में कैद हो जाएगा और उसपर भी एक्शन लिया जा सकेगा।

इसे भी पढ़ें : जम्मू-कश्मीर के बारामूला में मुठभेड़, दो पाकिस्तानी समेत तीन आतंकवादी ढेर

विवादों पर लगाम लगेगी : अमूमन किसी बड़ी घटना जैसे दंगे-फसाद या दो गुटों के विवाद जैसे हालात में कई बार पुलिस व पीड़ित पक्ष के बीच भी कार्रवाई किए जाने के दौरान विवाद की स्थिति बन जाती है। ऐसे में पुलिस पर कई आरोप भी लगते रहे हैं, जिसके जवाब में पुलिस को सफाई देनी पड़ती है। वीडियो कैमरे लगने से फुटेज के आधार पर पुलिस विवाद का वैज्ञानिक और पुष्ट जवाब देने में सक्षम होगी, जिससे विवाद बढ़ने की संभावना नहीं रहेगी।

इसे भी पढ़ें : जानिए कैसा रहेगा आज आपका दिन, पढ़िए 13 जुलाई का राशिफल

पीसीआर में ये बदलाव भी हुए : पीसीआर में पुलिसकर्मियों को ऑडियो के साथ-साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग की सुविधा से भी लैस करने की प्रक्रिया शुरू हुई है। पीसीआर वाहन को हाईटेक मोबाइल डाटा टर्मिनल से जोड़ा गया है। एपको रेडियो ट्रंकिंग स्मार्ट तकनीक पर आधारित व्यवस्था के तहत काम होने लगा है, जिससे संचार का माध्यम तेज हुआ है और पहले की तुलना में अपेक्षाकृत रिस्पांस टाइम में भी कुछ मिनट की कमी आई है।

इसे भी पढ़ें : सेक्‍स से जुडे ये दो सवाल, जिनके जवाब आपको जानने चाहिए

ये योजना भी : इसके अलावा प्रति स्क्वायर किलोमीटर के फार्मूले पर करीब 500 और पीसीआर वाहनों को सड़क पर उतारने की योजना है। ताकि इलाके का दायरा छोटा कर रिस्पांस टाइम को और भी बेहतर बनाया जा सके। इस कवायद में आगामी योजना के तहत पीसीआर की संख्या में बढ़ोतरी की जाएगी, जिससे पीड़ित लोगों तक दिल्ली पुलिस की पहुंच जल्द से जल्द हो सके। वर्तमान में दिल्ली पुलिस की पीसीआर यूनिट के बेड़े में एक हजार वाहन हैं।

इसे भी पढ़ें : फेसबुक पर जिसे 18 साल की समझकर करता था चैटिंग, असल में वह निकली दो बच्चों की मम्मी

स्टूडेंट्स टाईम फॉर न्यूज़ पर सबसे पहले नतीजे चेक कर सकते हैं। दिए टाईम फॉर न्यूज़ लिंक पर क्लिक करें और मध्य प्रदेश बोर्ड 10वीं का रिजल्ट 2020 चेक करें।

 

इसे भी पढ़ें : चीनी निवेश की वजह से Paytm का भी हो सकता है बहिष्कार, Mobikwik के समर्थन में आए लोग  

———————————————————————————————————–

टाईम फॉर न्यूज़ देश की प्रतिष्ठित और भरोसेमंद न्यूज़ पोर्टल timefornews.in की हिंदी वेबसाइट है। टाईम फॉर न्यूज़.इन में हम आपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mynews.tfn@gmail.com पर भेज सकते हैं या 9811645848 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।

टाईम फॉर न्यूज़ की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9811645848) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कांटेक्ट लिस्ट में सेव करें।

TIME FOR NEWS  पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूबफेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *