timefornews.in

पूर्वी दिल्ली के स्पेशल स्टाफ के हत्थे चढ़े 3 आरोपी

दिल्ली NCR दिल्ली पुलिस

पूर्वी दिल्ली : [टाईम फॉर न्यूज़ – रवि डालमिया] बीएसईएस के बकाया बिजली के बिलों की वसूली करने वाली पूर्व कंपनी डीएसवाई के तीन कर्मचारियों लॉक डाउन की वजह से बेरोजगार हो गए। तीनों ने गैंग बनाकर बीएसईएस ग्राहकों को डराकर उनसे वसूली शुरू कर दी। कभी घरेलू उपभोकता को लोड ज्यादा आने पर डराकर तो कभी कमर्शियल की जगह डोमैस्टिक मीटर लगाने का डर दिखाकर आरोपियों ने वारदातों को अंजाम देना शुरू कर दिया। पिछले पंद्रह दिनों में गैंग ने गाजीपुर और न्यू अशोक नगर में पांच वारदातों को अंजाम ‌दे दिया। जिले के स्पेशल स्टॉफ ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके पास से बीएसईएस के फर्जी आईकार्ड व एक बाइक बरामद की है। पुलिस पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है।

इसे भी पढ़ें : सुशांत सिंह राजपूत मामले में नया मोड़, एक्टर के पिता ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दर्ज करवाई FIR

पूर्वी जिला पुलिस उपायुक्त जसमीत सिंह ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों की पहचान कुलदीप सिंह (31), जितेंद्र कुमार (29) और मनोज कुमार (30) के रूप में हुई है। मनोज आगरा यूनिवर्सिटी से एमए किए हुए हैं। जीडी फार्म, मयूर विहार फेज-3 निवासी संजीव कुमार ने बताया कि 14 जुलाई को वह अपने घर में ही बनी दुकान पर मौजूद था। इसी दौरान चार-पांच युवक सादे कपड़ों में पहुंचे। आरोपियों ने खुद को बीएसईएस के इन्फोर्समेंट विभाग का अधिकारी बताकर एफआईआर दर्ज कराने की धमकी दी। मामले को रफादफा करने के लिए आरोपियों ने पीड़ित से 50 हजार रुपये की मांग की, लेकिन बाद में वह 35 हजार रुपये लेकर चले गए। इसी तरह कोंडली में अरुण गुप्ता से 29500, सोनू गुप्ता से 17000, महेशचंद से 15300 और जीडी फार्म निवासी सुशील कुमार से 18000 रुपये इन बदमाशों ने ऐंठ लिए। पीड़ितों ने मामले की सूचना पुलिस को दी।

इसे भी पढ़ें : दिल्ली के रोहणी जेल परिसर में सीआरपीएफ जवान ने छत से कूद कर आत्महत्या की

लोकल पुलिस के अलावा जिले के स्पेशल स्टाफ को भी जांच के लिए लगाया गया। इंस्पेक्टर सत्येंद्र खारी की टीम को सोमवार सूचना मिली कि आरोपी बदमाश पूर्वी दिल्ली में अपने शिकार की तलाश में घूम रहे हैं। पुलिस ने आरोपियों को पूर्वी दिल्ली से दबोच लिया। तीनों आरोपियों ने बताया कि पिछले कई सालों से वह बीएसईएस के लिए काम करने वाली इन्फोर्समेंट कंपनी डीएसवाई में काम करते थे। लॉक डाउन की वजह से बीएसईएस और उनकी कंपनी का कांट्रेक्ट टूट गया, जिसकी वजह से वह बेरोजगार हो गए। वह अच्छी तरह जानते थे कि आम लोगों को डराकर कैसे रुपये वसूले जाते हैं। इन लोगों ने गैंग बनाकर वसूली शुरू कर दी। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर इस बात का पता लगाने का प्रयास कर रही है कि इन लोगों ने कितने लोगों से वसूली की है।

इसे भी पढ़ें : गोविंदा के बेटे यशवर्धन का हुआ कार एक्सिडेंट, एक्टर ने दी घटना की पूरी जानकारी

स्टूडेंट्स टाईम फॉर न्यूज़ पर सबसे पहले नतीजे चेक कर सकते हैं। दिए टाईम फॉर न्यूज़ लिंक पर क्लिक करें और मध्य प्रदेश बोर्ड 10वीं का रिजल्ट 2020 चेक करें।

 

इसे भी पढ़ें : चीनी निवेश की वजह से Paytm का भी हो सकता है बहिष्कार, Mobikwik के समर्थन में आए लोग  

———————————————————————————————————–

टाईम फॉर न्यूज़ देश की प्रतिष्ठित और भरोसेमंद न्यूज़ पोर्टल timefornews.in की हिंदी वेबसाइट है। टाईम फॉर न्यूज़.इन में हम आपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mynews.tfn@gmail.com पर भेज सकते हैं या 9811645848 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।

टाईम फॉर न्यूज़ की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9811645848) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कांटेक्ट लिस्ट में सेव करें।

TIME FOR NEWS  पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूबफेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *